म.प्र. में अटल ज्येति की सच्चाई , 18 स े 22 घंटे तक संभागीय मुख्यालयों पर ब िजली गोल

बेहद प्रसिद्ध ब्लॉग चम्बल की आवाज फिर से इ ंटरनेट पर उपलब्ध होगा

बेहद प्रसिद्ध ब्लॉग चम्बल की आवाज फिर से इंटरनेट पर उपलब्ध होगा : सिब्बू सरकार का एक सबसे बड़ा झूठ और फर्जी हेल्पलाइन नंबर की कहानी तो हम आज आपको बता ही चुके हैं …. अब इन नंबरों को देख लीजिये …. ये नंबर बाकायदा मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा अपनी वेबसाइट पर जारी किये गये हैं ….. ये नंबर भी कभी नहीं लगते और इन नंबरों पर कभी कोई जन शिकायत दर्ज नहीं की जाती …. इन सब फर्जी नंबरों के अलावा इन्हीं लोगों की वेबसाइटों पर इनके फर्जी ई मेल पते भी दिये हुये हैं … जिन पर कभी भी कोई ई मेल रिसीव नहीं होती , हमेशा वापस लौट आती है और रिपोर्ट आती है कि इस नाम का कोई ई मेल पता उपलब्ध नहीं है ….. हमने ऐसी लौटी हुई सारी ई मेल लगातार सन 2009 से संभाल कर रखी हुई हैं …. ग्वालियर टाइम्स म.प्र. सरकार के ऐसे ही इसी तरह के सैकड़ों फर्जीवाड़ों और झूठ के पुलिंदों पर बाकायदा किश्तबद्ध एक श्रंखलाबद्ध आलेख एवं विस्तृत सामग्री का प्रकाशन शुरू करने जा रहा है , म.प्र. डायरी एवं मुरैना डायरी जो कि काफी समय से एक अरसे से ग्वालियर टाइम्स पर प्रकाशित नहीं की जा रही थी अब आप हर हफ्ते उसे हमारे विभि‍न्न प्रिंट संस्करणों, प्रसिद्ध पत्रिकाओं यूथ मीडिया तथा हमारी लोकप्रिय पत्रिका नोबलयूथ सहित इंटरनेट पर प्रकाशित किये जाने वाले हमारे विभ‍न्न सभी 23 ब्लॉगों, ग्वालियर समाचार, भिण्ड समाचार, मुरैना समाचार, चम्बल की आवाज, जनता की आवाज, चंबल मित्र, ग्वालियर टाइम्स (वर्ड प्रेस पर) तथा इसके अलावा हमारी मूल वेबसाइटों ग्वालियर टाइम्स सहित सभी 8 वेबसाइटों पर नियमित रूप से पढ़ा जा सकेगा , इनके फर्जीवाड़े और झूठ एवं लफ्फाजी के वीडियो वर्जन हमारे यू टूयूब चैनलों के अलावा सिंडिकेशन सर्विसेज में भी उपलब्ध रहेंगें , हमारी सभी सिंडिकेटेड वेबसाइटों पर भी यह सब श्ररंखलायें एक साथ प्रकाशित व प्रसारित की जायेंगी … अन्य लोग जो इसे सिंडिकट या शेयर करना चाहें उनके लिय इन सबके एटम एवं आर.एस.एस. फीड के अलावा एक्स.एम.एल. फीड भी उपलब्ध रहेंगें …. हमारी यह श्रंखलायें नियमित रूप से 01 मार्च 2014 से सभी जगह एक साथ प्रकाशित होगीं किंतु मुरेना डायरी का प्रकाशन 01 फरवरी से प्रारंभ हो जायेगा , बेहद प्रसिद्ध और सर्वाधिक लोकप्रिय हमारा ब्लॉग चम्बल की आवाज इसी माह के अंत तक दोबारा से प्रकाश‍ति होना शुरू हो जायेगा, तदनुसार हमारे सभी पुराने एवं नये सुधी पाठकजन व दर्शकजन कृपया नोट कर लें – पूर्ववत सहयोग की अपेक्षा व आकांक्षा के साथ – आपका – नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनंद” , प्रधान संपादक एवं सी.ईओ. ग्वालियर टाइम्स ग्रुप , प्रबंध निदेशक , देवपुत्र प्रा. लिमिटेड ग्रुप

Madhya Pradesh chief minister shivraj singh is declaring and running forged toll free help line number.

Madhya Pradesh ke Mukhyamantri Shivraj Singh ka help line number 9009133322 total farzi hai. Is par koyi shilayat darz nahi hoti. Hamne socha ki bijali ki 18 ghante ki mairathan bijali katauti ki is par shikayat ki jaaye. Avaal to yai number toll free nahi hai, har baar caall karne ke is par paise lagte hain. Ham pichhle 2 ghante se yahi check kar rahe the. Poore 220 Rs. Is farzi number par call karke kharch karke tab ham ye baat daave se thok ke kah rahe hain ki Sibboo ki hi tarah uska help line number bhi farzi hai. . . . Keval diaal maatra karne ke paise kaat leta hai. Aap log please try kar ke dekho . . . . Haalanki hamari Bijali abhi tak nahi aayi hai.

शनि जब पीड़ा दे तो क्या करें – कुछ उ पाय यह हैं

चुनावी सर्वे के खतरे – राकेश अचल

क्या होने वाला है 8 दिसम्बर को , ज्य ोतिष क्या कहता है

5 दिसम्बर को शुक्र राशि बदल रहे हैं , धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं, वृश्च‍िक राशि में बुधादित्य योग चल रहा है, जो कि 1 दिसंबर से शुरू हुआ है और 15 दिसंबर तक कायम रहेगा, इसके बाद 20 दिसम्बर से धनु राशि में यह बुधादित्य योग इस वर्ष के अंत तक चलेगा, मंगल कन्या राशि में चल रहे हैं, गुरू मिथुन राशि में वक्री चल रहे हैं, शनि औॅर राहू की युति तुला राशि में चल रही है, आज चन्द्रमा धनु राशि में है, 8 दिसम्बर को चन्द्रमा कुम्भ राशि में होंगें …. 8 दिसम्बर को ज्योतिष चौंकाने वाले नतीजे के जहॉं संकेत देता है वहीं बली चंद्र कुम्भ राशि में जाने से चंद्र बली लोग किंचित असमंजस, परेशानी और गहरे गह्वर में डूबता महसूस करेंगें, शुक्र का राशि परिवर्तन जहॉं कुछ लोगों के लिये सुकून बन कर उभरेगा और उन्हें राजपद एवं वाहन ऐश्वर्य , राजसुख व राजभोग, स्त्री सुख, सौंदर्य तथा साधन प्रदाता बन जायेगा तो कुछ लोगों से यही सब छीन लेगा, व्यक्ति विशेष के लिये यह सब जन्म कुंडली में शुक्र की स्थिति एवं दशा महादशा, गोचर दशा एवं अष्टक वर्ग की स्थ‍िति पर निर्भर करेगा , वृश्च‍िक राशि में बुधादित्य योग सूर्य व बुध बली लोगों के लिये राजपद दाता एवं राजसुख दाता के साथ व्यवसाय व्यापार प्रदाता बनेगा विशेषकर उन लोगों के लिये जिनकी जन्म कुंडली में सूर्य और बुध अच्छी स्थ‍िति में होगें , अन्यथा यदि जन्म कुंडली में इनकी स्थ‍िति ठीक नहीं है तो बाधाकारक और रूकावट पैदा करने वाले बन जायेंगें , शनि व राहू की युति संकेत देती है कि तंत्र मंत्र यंत्र , दान दक्षिणा , जादू टोना , काला जादू, कूटनीति, नीच नीति का न केवल बोलबाला रहेगा बल्क‍ि ऐसे वे लोग जो इनका प्रयोग करेंगें सफल और कामयाब भी होंगें ….. तदनुसार यहॉं आज 8 दिसम्बर की कुंडली यहॉं प्रस्तुत एवं प्रकाशि‍त की जा रही है ….

कैलाश विजयवर्गीय को पड़ जाये तमा चा तो वे बन जायेंगें मुख्यमंत्री, कांग्रेस के हल्ला बोल में जमकर बर से दिग्विजय सिंह

दिग्विजय ने शिवराज को कहा , एक जुबान का और विश्वसनीय आदमी नहीं है, म.प्र. का मुख्य मंत्री

कैलाश विजयवर्गीय को पड़ जाये तमाचा तो वे बन जायेंगें मुख्यमंत्री, कांग्रेस के हल्ला बोल में जमकर बरसे दिग्विजय सिंह

उज्जैन , 30 अप्रेल , आज उज्जै‍न में कांग्रेस के हल्ला बोल कार्यक्रम में म.प्र. के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह ने म.प्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर ताबड़तोड़ हमला बोलते हुये कहा है कि क्या हालत बना दी है शिवराज सिंह ने मध्यंप्रदेश की , चारों ओर बस अपराध ही अपराध , माफिया ही माफिया, गुण्डे ही गुण्डे , बलात्कार ही बलात्कार , अ.जा. / ज.जा. के लोगों पर बेतहाशा जुल्म और अत्या चार की इंतहा जो कि म.प्र के इतिहास में आज तक नहीं हुआ है । सारे रिकार्ड टूट गये हैं म.प्र. में । हमने अपनी सरकार में जो योजनायें बनाईं वे ही आज विकसित और फलीभूत हो रहीं हैं, प्रदेश की गॉंव गॉंव तक सड़कें बनाने की योजना हमने बनाई , काम हमने शुरू किया , जो हमने शुरू किया वही आज दिख रहा है , शिवराज सिंह का खुद का तो कुछ है ही नहीं खुद के पास ।
अत्याचार अपराध और अन्याय के अलावा चारों ओर भ्रष्टााचार , निरंकुश प्रशासन और अफसर , लगता है जैसे पूरे प्रदश में अराजकता ही अराजकता फैली हुयी है , प्रदेश में सरकार नाम की चीज ही नहीं रही है , प्रदेश का मुख्यमंत्री बेअसर, प्रभावहीन, और नाकारा बन कर बैठा है , कैलाश विजयवर्गीय जैसे अभद्र अशालीन भाषा बोलने, भ्रष्टाचार में आकंठ लिप्त को पाल पास रखा है , सुनने में आया है कि किसी अफसर को पार्षद चंदू शिंदे ने तमाचा मार दिया और उसके बाद उस अफसर की तरक्की हो गयी , इसका मतलब ये निकला कि अगर चंदू शिंदे एक तमाचा कैलाश विजयवर्गीय में मार दे तो कैलाश विजयवर्गीय की भी तरक्की होकर मुख्यमंत्री बन जायेंगें , एक और मंत्री विजय शाह ने भी भाजपा संस्कृति की व्याख्याा करते हुये जब शिवराज सिंह के घर में ही हाथ डाल दिया तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उसका पद छीन लिया, लेकिन खुले आम गुण्डागिरी कर रहे और निरंतर अभद्र व अशालीन भाषा का प्रयोग कर रहे, कैलाश विजयवर्गीय का इस्तीफा लेने की हिम्मत ही नहीं है । कैलाश विजयवर्गीय किसी में भी तमाचा मारें चाहें गाली गलौज करें , कैलाश विजयवर्गीय को संरक्षण और विजयवर्गीय द्वारा सताये गये का भक्षण । हमने गरीबों को अज जजा के लोगों को पट्टे दिये लेकिन सुनने में आ रहा है कि न केवल उनके पट्टे कैंसिल किये जा रहे बल्किह उनकी खुद की भी जमीनें छीनी जा रहीं हैं ।
निहायत ही लचर और प्रभावहीन, नियंत्रण हीन ऐसी सरकार म.प्र. के इतिहास में कभी नहीं हुयी , कोई तो म.प्र. के मुख्यलमंत्री शिवराज सिंह को महाझूठा कहता है तो कोई घोषणावीर , कोई लबरा कहता है, कोई लाफर या लाफड़ कहता है, कोई लबार कहता है, कोई लपसा कहता है तो कोई लफ्फाज कहता है , ये क्याा हाल बना रखा है शिवराज ने , कोई सुनता मानता ही नहीं है पूरे म.प्र. में शिवराज की , मुख्य मंत्री कुछ भी कहता रहे , कुछ भी बकता रहे , पूरे प्रदेश में दो कौड़ी की कदर नहीं है , अरे भई सरकार का एक रूतबा होता है , एक तेजस्विता होती है सरकार में जिससे सब कुशलता पूर्वक नियंत्रित भी होता है और सरकार भी चलती है, मुख्य मंत्री रोजाना क्या कह रहे हैं, क्याा वायदा , क्या घोषणा कर रहे हैं , न खुद को कुछ याद है , न सरकार के पास कोई हिसाब है । ये कोई मुख्ययमंत्री है कि एक घोषणा कर दे और दूसरे दिन उसी घोषणा के खिलाफ पूरी सरकार और प्रशासन ठीक उलट काम करे । मुख्य मंत्री उसे कहा जाता है कि जिसकी जुबान गंभीर हो , जिसकी बात में दम हो, वजन हो ‘’जिसमें यह तासीर हो , कि जो कह दिया सो कह दिया, जो कर दिया सो कर दिया, फिर पूरी सरकार और प्रशासन में दम नहीं कि उस बात के उलट कुछ कर पाये, मुख्यमंत्री द्वारा कही गयी बात के खिलाफ कोई जा सके, मुख्य मंत्री के आदेश , घोषणा या वायदे को कोई टाल सके या काट सके’’ , शिवराज सिंह क्या कहते हैं और क्या् करते हैं , उनकी हर घोषणा का , हर वायदे का क्याई अंजाम होता है , केवल म.प्र. के लोग ही नहीं पूरे देश के लोग जानते हैं ।

महाझूठे शिवराज सिंह के खस्ताहाल म ध्यप्रदेश में बिजली कटौती फिर सिर चढ़ कर बोली

संभागीय मुख्यालय पर 16 घंटे और जिला मुख्यालयों पर 20 घंटे की बिजली कटौती
मुरैना 27 दिसंबर 12, स्वर्णिम म.प्र. बनाने का पिछले चार साल से दावा और वादा कर रही म.प्र. की शिवराज सिंह सरकार के बुरी तरह खस्ताहाल मध्यप्रदेश में पिछले एक हफ्ते से बिजली कटौती का कहर टूट पड़ा है । विकास और प्रगति के मामले में घुटनों पर रेंग रही म.प्र. की सरकार जब सन 2003 में सत्ता आई तो महज एक महीने के अंद 24 घंटे बिजली देने का वायदा करके आई । मगर हालात का आलम ये है कि भाजपा की सरकार को सत्ताम में आये पूरे 10 साल गुजर गये 24 घंटे बिजली देना तो दूर आठ घंटे भी बिजली आज तक म.प्र. को मयस्सर नहीं करा पाई ।
सन 2008 के विधानसभा चुनावों में शिवराज सिंह चम्बल में पोरसा एवं जौरा की चुनावी सभाओं में वायदा करके गये थे कि पिछले 5 साल में हम आपको बिजली नहीं दे पाये लेकिन अब मेरा वायदा है कि अब अगर मेरी सरकार बनी तो मैं आपको 24 घंटे बिजली दूंगा , पोरसा की सभा में शिवराज सिंह ने यह वायदा किया कि अगर अबकी बार बरसात अच्छी हुयी तो मैं आपको 24 घंटे बिजली दूंगा , संयोगवश उस साल बहुत अच्छी वारिश हो गयी , बांघ ओवरफुल हो गये काफी पानी बांधों को खोलकर बाहर निकालना पड़ा तो चार पॉंच महीने बाद जौरा में हुयी शिवराज सिंह ने पलटी मारते हुये कहा कि अगर अबकी बार मेरी सरकार बनी तो आपको 24 घंटे बिजली दूंगा , संयोगवश शिवराज सिंह की सरकार भी बन गई तो अगले महीने ही शिवराज सिंह ने बयान दिया कि मैं क्या करूं केन्द्र कोयला ही नहीं दे रहा , मैं प्रदेश को बिजली कैसे दूं , इसके बाद जब केन्द्रीय कोयला मंत्री ने म.प्र. में आकर बयान दिया कि जितना चाहिये उतना कोयला लो , कोयले की कोई कमी नहीं है , पैसा दो और कोयला लो , तब उसके अगले महीने से शिवराज सिंह ने कहना शुरू किया कि केन्द्र घटिया कोयला दे रहा है , मैं क्याऔ करूं प्रदेश को बिजली कैसे दूं , इसके कुछ समय बाद शिवराज सिंह ने कहा कि सबके फीछर अलग अलग किये जा रहे हैं , फीछर अलग अलग होते ही प्रदेश को 24 घंटे बिजली दूंगा । फीडर भी अलग अलग कर दिये गये प्रदेश में कटिया डालना भी सन 2010 में ही बंद करा दिया गया, हाईटेंशन लाइनें सीधे हर घर तक डाल कर घर घर में मीटर टांग दिये गये बिजली के बिल आठ गुना तक बढ़ा दिये गये , दिग्विजय सिंह के शासनकाल में जिन घरों में बिजली का बिल 200 रूपये आता था उन घरों का बिजली का बिल 2000 रूपये महीने से भी ऊपर आने लगा मगर बिजली फिर भी प्रदेश को मयस्सर नहीं हुयी ।
हाल ये है कि अब तासे शिवराज सिंह के पास कोई बहाना भी नहीं बचा , अगले साल सन 2013 में फिर विधानसभा चुनाव है , सुनने में आ रहा है कि अब शिवराज सिंह चुनाव के ऐन वक्त पर प्रदेश को 24 घंटे बिजली देंगें , सवाल यह है कि दस साल तक म.प्र. को खून के ऑंसू रूला देने वाले शिवराज सिंह को दस महीने चुनाव काल में बिजली देने का जनता पुरूकार देगी या दंड । यह देखने की बात होगी कि पत्ते पत्ते पर गुलांटी खाने वाले, महज घोषणायें करने और लगातार दनादन झूठ बालने शिवराज सिंह को प्रदेश की जनता अबकी बार पुन: सत्तासीन करेगी या सत्ता से बाहर धकेल कर सदा सर्वदा के लिये राजनीति से बाहर कर देगी ।

बिजली कटौती के वावजूद जनता से जवरन बसूले गये धन की वापसी करायेगी युव ा कांग्रेस, जनहित याचिका आयेगी , शव यात्रा निकलेंगीं और फुकेंगें सरक ार के पुतले

युवक कांग्रेस 20 जुलाई को घेरेगी म. प्र. विधानसभा, 7 जुलाई से मुरैना की हर विधानसभा का दौरा

« Older entries

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.