भारत सरकार की डिजिटल इंडिया योजना के तहत सी डेक की ई व्यापार – ई कियोस्क योजना के आवेदन पत्र डाउनलोड करें


Gwalior Times E – Vyaapar Application

ग्वालियर टाइम्स समाचार अपडेट
दिनांक 02 नवम्बर 2015
* ग्वालियर टाइम्स की ई व्यापार सेवायें भारत सरकार के सीडेक के पोर्टल के माध्यम से अधकिृत कियोस्कों के जरिये 01 नवम्बर 2015 से शुरू कर दी गई हैं , जिनके आवेदन पत्र नि:शुल्क डाउनलोड के लिये ग्वालियर टाइम्स के ई व्यापार व ई कॉमर्स पोर्टल सहित , इंटरनेट पर ग्वालियर टाइम्स के कई अन्य सर्वरों से संचालित वेब पेजों पर भी उपलब्ध हैं , उल्लेखनीय है कि ई व्यापार सेवा भारत सरकार की डिजिटल इंडिया योजना के अंतर्गत ”सी डेक” के पोर्टल से सीधे संचालित की जायेगी , जिसमें हर यूजर के लिये अलग अलग से आई.डी. व पासवर्ड दिया जायेगा और वह दलाल एवं दूकान मुक्त , कमीशन व जमाखोरी मुक्त , कालाबाजारी मुक्त, मुनाफाखोरी से मुक्त होकर सीधे ही खरीद व बिक्री कर सकेगा । और यह सेवा केवल किसानों और बेरोजगारों के लिये ही उपलब्ध रहेगी , अन्य किसी को इस सेवा में सुविधा प्राप्त नहीं होगी , जिसमें आवश्यक सबूत साक्ष्य व दस्तावेज आवेदन के साथ प्रस्तुत करने होंगें , तथा उसके स्वयं के पास इंटरनेट की सुविधा होनी चाहिये, ई व्यापार में किसान अपने खुद के माल या अनाज का खुद दाम तय करेगा और भारत सरकार के पोर्टल पर दर्ज करेगा, खरीदने वाले को यदि वह माल या अनाज या अन्य कोई भी वस्तु , सुई से लेकर जहाज तक बेरोजगार निर्माता अपना दाम खुद तय करके पोर्टल पर दर्ज कर सकेंगें , भारत के किसी भी स्थान पर यदि वह दाम स्थानीय माल , अनाज या वस्तु या अन्य सेवाओं से सस्ता व बेहतरीन मिलता है तो वह उसे सीधे बेचने वाले से सीधा संपर्क करके खरीद सकेगा , इस प्रकार भारत के क्रेता विक्रेता सीधे आपस में जुड़ जायेंगें , इस सेवा में कोई कमीशन आदि या अन्य सेवा का भुगतान नहीं करना होगा, यह सेवा पूरी तरह से किसानों व बेरोजगारों के लिये मुफ्त रहेगी ।
चूंकि ग्वालियर आइम्स के बारे में किसी भी प्रकार की सूचना या डाउनलोड सूचना सोशल मीडिया व व्हाटस एप्प आदि के जरिये प्रसरित व प्रकाशन करने पर एकदम से करोड़ों लोगों का बहुत भारी संख्या में ट्रेफिक ग्वालियर टाइम्स के वेब पोर्टल ( http://www.gwaliortimes.in/ ) पर एकदम से एक साथ आ जाता है और तीनों सर्वर एकदम से डाउन होकर एकदम से बिलकुल ठपप व कुद समय के लिये हैंग व अनुपलब्ध हो जाते हैं , जबकि ग्वालियर टाइम्स का वेब पोर्अल तीन अलग अलग सर्वरों से संचालित होता है , जिसमें गूगल जैसा भारी भरकम क्लाउड सर्वर भी शामिल है , ऐसी सूरत में यह निर्णय लिया गया है कि , ई व्यापार योजना के आवेदन पत्र का उाउनलोड ग्वालियर टाइम्स के वेबपोर्टल सहित , इंअरनेअ पर लगभग सभी जगह उपलब्ध कराया जाये जिससे ग्वालियर टाइम्स का एकाएक टूट पड़ने वाला ट्रेफिक डायवर्ट हो सके और , आवेदन पत्र सभी लोग डाउनलोड भी कर सकें तथा ग्वालियर टाइम्स के तीनों सर्वरों पर ट्रेफिक एवं हिटस लोड कम से कम रह सके और वेब पोर्अल की बार बार आने वाली सर्वर डाउन ब्लास्ट समस्या से निबटा जा सके । हालांकि इतनी जयादा लोकप्रियता के लिये ग्वालियर टाइम्स समूचे भारत के देश वासियों विदेशों में बहुत बड़ी भारी संख्या में देखे जाने व लोकप्रियता के प्रति हृदय से सभी का आभार व शुक्रिया अदा करती है , कि हमें सन 2008 में मिल रहे 85 लाख हिटस से आज करोड़ों के असीमित हिटस तक पहुँचा दिया , हालांकि करीब दस बारह साल से हमारी योजना मुरैना में अपना निजी सर्वर स्थापित करने व पूरे विश्व को मुरैना से होस्ट‍िंग सेवा देने की थी , किन्तु भारत की या मध्यप्रदेश की परिस्थ‍ितियां सूचना प्रौद्योगिकी के लिये एकदम से अनुकूल न होकर सर्वथा प्रतिकूल हैं, सबसे बड़ी समस्या बिजली की कटौती यानि बिजली का अभाव , सरकारी सिस्टम की कमियां व खामियां , विदेशों में जहॉं 6 जी और जापान में 10 जी तक की गति की इंटरनेट डाटा एवं उाटा वाल्यूम सेवायें बिल्कुल मुफ्त हैं , वहीं भारत जैसे देश में 2 जी या 3 जी या 4 जी के नाम पर बेहद घटिया व
पल पल डाआ ड्राप डाउन के साथ समूचे विश्व की सबसे मंहगी व पेड इंटरनेट सेवायें हैं, जैसी आदि बहुत से कारण बने कि हमारी यह दस बारह साल पुरानी वेब सर्वर मुरैना में लगाने और समूचे विश्व को मुरैना से वेब होस्ट‍िंग सेवायें देने का सपना साकार न हो सका और महज एक कल्पना मात्र ही आज दिनांक तक बना रहा , बना हुआ है । मुरैना में वेब होस्ट सर्वर लगाने के पीदे मुख्य वजह यह भी थी कि मुरैना संपूर्ण भारत का हर दिशा से एकमात्र असल केन्द्र बिन्दु है, आप चाहे जिस दिशा से भी लकीरें खींचें , उनका मूल बिन्दु मुरैना बैठता है , लिहाजा जाहिर है कि मुरैना से शुरू हुआ काम बेशक सारी दुनियां का फतहनामा का एक महाभारत सम्राट की नगरी, हल्दीघाटी युद्ध के शहीद वीरों , अमर शहीद रामप्रसाद बिस्मिल , भारत की सीमाओं की पहरेदारी कर भारत की सीमाओं पर रोजाना अपना लहू बहा रहे , शीष कटा रहे चंबल के नौजवानों के लिये महाभारत सम्राट दिल्लीपति महाराजा अनंगपाल सिंह तोमर की नगरी , राजधानी मुरैना के लिये , संभवत: इससे बड़ी उपलब्ध‍ि व गौरव एवं उनका सच्चा सम्मान शायद कुछ न होता । मगर ऐसा हो न सका ।
खैर परिस्थतियों व हालातों के मद्देनजर हम ई व्यापार योजना में कियोस्क क्रय विक्रय केन्द्र बनाने हेतु किसानों और बेरोजगारों के लिये आज आवेदन पत्र ग्वालियर टाइम्स के वेब पोर्टल सहित इंटरनेट पर अनेक जगहों तथा सोशल मीडिया पर उपलब्ध करा रहे हैं , कृपया निम्न लिंकों में से किसी पर भी क्लि‍क करके जहॉं से भी आप सहजता से आवेदन डाउनलोड कर सकें , कर लीजिये और इसे पूरी तरह भरकर तुरंत जमा करा दीजिये ।
– नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द”
Presented By Gwalior Times
ग्वालियर टाइम्स द्वारा देश भर के किसानों और बेरोजगारों हेतु नि:शुल्क दलाल , आढ़त व दूकान, जमाखोरी, कालाबाजारी, मुनाफाखोरी मुक्त भारत बनाने हेतु भारत सरकार के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत सीधे क्रेता व विक्रेता के बीच संबंध स्थापित कर क्रय विक्रय करने हेतु आवेदन आमंत्रित हैं , यहॉं क्ल‍िक करके आवेदन पत्र डाउनलोड किया जा सकता है , सारा क्रय विक्रय भारत सरकार के सी डेक के पोर्टल के माध्यम से होगा , यह सेवा पूरी तरह से नि: शुल्क एवं किसी भी प्रकार के कमीशन व दलाली के लेनदेन से पूरी तरह मुक्त है
http://www.gwaliortimes.in/
ग्वालियर टाइम्स प्रस्तुत करती है ई व्यापार योजना – क्रय विक्रय कियोस्क ( सी डेक – भारत सरकार)
आवेदन पत्र निम्न में से किसी भी लिंक पर क्ल‍िक करके डाउनलोड कर लें –
http://www.gwaliortimes.in/Gwalior%20Times%20%20%20%20E%20-%20Vyaapar%20Application.pdf

https://www.facebook.com/download/179608915715168/Gwalior%20Times%20%20%20%20E%20-%20Vyaapar%20Application.pdf

https://www.facebook.com/download/1525932167727379/Gwalior%20Times%20%20%20%20E%20-%20Vyaapar%20Application.pdf

उपरोक्त किसी भी लिंक से आवेदन पत्र डाउनलोड कर लें , यदि आवश्यकता महसूस हुयी तो यह डाउनलोड ट्व‍िटर सहित , अन्य करीब 66 वेबसाइटों पर भी उपलब्ध करा दिया जायेगा

ग्वालियर टाइम्स प्रस्तुति : http://www.gwaliortimes.in/
ग्वालियर टाइम्स फिल्म्स डिवीजन एंड टी.वी. सीरियल प्रोडक्शन हाउस :
http://www.gwaliortimes.in/gwalior_times_films_and_t_v.htm

//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: