ग्वालियर टाइम्स के सी. ई. ओ. नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” को गूगल इंकारपोरेशन ने गूगल मैप के लिये अपना लोकल गाइड नियुक्त किया


देवपुत्र पायवेट लिमिटेड ग्रुप ऑफ कम्पनीज के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं लीगल एडवाइजर, चम्बल की आवाज तथा ग्वालियर टाइम्स के सी. ई. ओ. नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” को गूगल मैप्स इंकारपोरेशन ने गूगल मैप के लिये अपना लोकल गाइड बनाया

नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” को गूगल ( इन्कार्पोरेशन ) कम्पनी ने स्थानीय गाइड नियुक्त किया , सभी स्थानीय फोटो , थ्री डी फोटो , वीडियो सहित , उसका नाम , इतिहास , और पृष्ठभूमि , विचार, सतर्कता , सावधानियां सहित सभी प्रकार के व्यू और रिव्यू लिखने के सर्वाध‍िकार कम्पनी ने तोमर को सौंपें
ग्वालियर / मुरैना 19 जुलाई 2016 । गूगल कम्पनी ने अपने बहुत बड़े व संपूर्ण विश्व तक फैले महात्वाकांक्षी प्रोजेक्ट ” गूगल मैप ” के लिय मुरैना के गांधी कालोनी के विख्यात व प्रसिद्ध समाजसेवी एवं पुराने अति अनुभवी नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द”’ को अपना लोकल गाइड नियुक्त किया है ।
नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” को गूगल की ओर से नियुक्त‍ि पत्र प्राप्त हो गया है , साथ ही गूगल ने बहुत बड़ा काम करने जा रहे श्री तोमर को बहुत बड़ा अवार्ड देने की भी घोषणा की है ।
नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” अब न केवल किसी व्यक्त‍ि विशेष पर बल्क‍ि स्थल विशेष पर भी गूगल की ओर से काम करेंगें , किसी स्थल विशेष या व्यक्त‍ि विशेष को गूगल मैप में जोड़ सकेंगें, फर्जी या असत्य को हटा व डिलीट कर सकेंगें , लापता भवनों को तलाश सकेंगें, ऐतिहासिक स्थलों , किसी भी औद्योगिक प्रतिष्ठान, व्यवसाय , होटल , खानपान, लॉजिंग , मंदिर , मस्जिद , चर्च , ढाबा अदि को चिह्न‍ित कर सकेंगें , उस पर ब्यौरा दजकर सकेंगें , उसे गेड दे सकंगें , डी ग्रेड कर सकेंगें ।
इसके अलावा किसी भी फोटो , वीडियो , थ्री डी वीड‍ियो या थ्री डी फोटो को गूगल मैप पर अपलोड कर सकेंगें , सभी ऐतिहासिक प्रृष्ठभूमि के स्थल अपलोड कर सकेंगें उनके इतिहास व ब्यौरे लिखें सकेंगें , स्थानीय स्कूलों , कालोजों के, चिकित्सा सुविधाओं, पेट्रोल पम्पों , सार्वजनिक सुविधाओं, होटलों आदि के नाम , चित्र वीडियो ब्यौरे ग्रेड , डीग्रेड , व्यू , रिव्यू लिख सकेंगें , जोड सकेंगें , हटा सकेंगें , किसी हस्ती विशेष , व्यक्त‍ि विशेष , युग पुरूष व ऐतिहासिक व्यक्तित्व पर ब्यौरा चित्र वीडियो आदि जोड़ या हटा या बदल सकेंगें ।
असली सड़कों के , असली भवनों की व असल अधोसंरचना की , नगर के स्तरीय हालात व असल नगरीय हालात व स्थ‍िति के चित्र व वीडियो अपलोड कर सकेंगें , या हटा सकेंगें , संपादन व क्रियेशन , डिलीशन आदि सभी कार्य नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” गूगल मैप की ओर से तथा गूगल कम्पनी की ओर से करेंगें ।
नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द ” ने ग्वालियर चम्बल सहित राजस्थान के लोगों से कहा है कि वे अपने सड़को , बिजली संरचना , अन्य अधोसंरचना आदि के चित्र व वीडियो  आदि भेजते समय अपने कैमरे का जी.पी.एस. इन्फो ऑन रखें और , सारे जी.पी.एस. सूचनाओं की रिकार्डिंग कैमरे को ही करने दें , जिससे आपका फोटो या वीडियो स्वत: आटोमेटिक रूप से जियो टेग हो जायेगा और खुद ब खुद सही जगह गुगल मैप में स्वत: सेट हो जायेगा । अपने चित्र या वीडियो के साथ संपूर्ण ब्यौरा अवश्य भेंजें , उसकी ऐतिहासिक पृष्ठभ्ज्ञूमि अवश्य भेजें , यदि किसी ऐतिहासिक स्थल से संबंधी वीडियो या चित्र भेज रहे हैं तो उसका संदर्भ ग्रंथ , प्रमाण‍िकता सहित संपूर्ण अतिहास व वंशावली आदि अवश्य भेजें ।
चम्बल के लोगों से बिजली , सडक व खेतों की हालत तथा अन्य इन्फ्रा स्ट्रक्चर संबधी वीडियो व चित्र भेजने की अपेक्षा की गयी है , जो गुगल के लोकल गाइड नरेन्द्र सिंह तोमर ”आनन्द” द्वारा गुगल मैप में दर्ज किया गया जायेगा , केवल वही चित्र , वीडियो व ब्यौरा ही संपूर्ण विश्व में दिखेगा ।

फिल्म – योगेश्वरी ( भाग – 4) काला जादू , तंत्र मंत्र की काट


BHARAT FILM ( PART -2) भारत फिल्म (भाग-2)


भारत फिल्म ( भाग - 2)

भारत फिल्म भाग -2  का विश्वस्तरीय प्रसारण हुआ
बहुप्रतीक्ष‍ित फिल्म भारत भाग – 2 का आज देवपुत्र फिल्मस , मीडिया एवं एडवर्टाइजर्स प्रायवेट लिमिटेड द्वारा प्रसारण कर दिया गया , इस फिल्म को नीचे दी गयी लिंक पर क्ल‍िक करके सीधे यू ट्यूब , फेसबुक , ट्व‍िटर सहित 16 सोशल मीडिया पर देखा जा सकता है , विज्ञापन अनुबंधों के कारण ग्वालियर टाइम्स के निजी वेबलाग्स और निजी इंटरनेट प्लेटफार्म पर यह फिल्म इसी हफ्ते बाद में प्रसारित की जायेगी ।
हल्दीघाटी का युद्ध, ग्वालियर के राजा रामशाह सिंह तोमर की और उनकी तीन पीढ़ीयों की वीरगति , चम्बल के 423 तोमर राजपूतों की वीरगति, महाभारत की महारानी कुन्ती का कुन्तलपुर ( अर्जुन की ननसार) , मुनि दुर्वासा की तपस्थली व आश्रम, महारानी कुन्ती का शि‍व लिंग और शि‍व मंदिर, कर्णखार जहॉं सूर्य का रथ आसन नदी में उतरा , जहॉं कर्ण का जन्म हुआ, कर्णखाार आसन नदी जहॉं स्वर्ण मंजूषा में रख कर कर्ण को आसन नदी में प्रवाहित किया गया , देखि‍ये सारे भौतिक स्थलों के चित्र व वीडियो इस फिल्म में
Presented By Gwalior Times
सीधे डायरेक्ट यू ट्यूब पर निम्न लिंक पर पूरी फिल्म देखें

भारत फिल्म ( भाग - 2)

ग्वालियर टाइम्स प्रस्तुत करती है
हमारा चैनल यू ट्यूब पर तथा फेसबुक पर सदस्यता लें तथा पसंद ( लाइक करें)

https://www.facebook.com/groups/evaapar/

हमारा यू ट्यूब चैनल देखने व उसकी सदस्याता लेने हेतु नीचे दी गई लिंक पर क्ल‍िक करें
https://www.youtube.com/channel/UCoQpkHHHw1d113G6y2FN_Jw

%d bloggers like this: