अब म.प्र. शासन की पॉाच लोक सेवायें , भारत सरकार के प्रोबोनो एडवोकेट के हवाले


अब म.प्र. शासन की पूरे मध्‍यप्रदेश की पॉंच लोकहितकारी सेवायें भी भारत सरकार के डिजिटल इंडिया को म.प्र. शासन द्वारा साौंपी गईं , ये सेवायें भाारत सरकार के न्‍याय विभाग , विधि एवंन्‍याय मंत्रालय के के तहत प्रोबो एडवोकेट के कार्यालय पर ई लोक सेवा केन्‍द्रों के माध्‍यम से उपलब्‍ध होंगी , हर सेवा की समयावधि निर्धारित है , उतने समय के अंदर यदि किसी को प्रमाणपत्र नहीं प्राप्‍त होता है या सेवा प्राप्‍त नहीं होती है तो सीधा एक्‍शन प्रोबोनो एडवोकेट कार्यालय द्वारा लिया जायेगा और दोषी के विरूद्ध सीधी कार्यवाही कर म.प्र. शासन के प्रमुख सचिव को , नगर निगम आयुक्‍त , जिला कलेक्‍टर , संभागीय कमिश्‍नर तथा , अपने न्‍याय विभाग भारत सरकार को की गई कार्यवाही से अवगत करा दिया जायेगा । जनता अपना आवेदन अब सीधे प्रोबोनो एडवोकेट के ई लोक सेवा केन्‍द्र पर निम्‍न चित्रानुसार प्रस्‍तुत कर सकती है । – नरेन्‍द्र सिंह तोमर , 42 गांधी कॉलोनी , मुरैना , म.प्र.

Advertisements

Pro Bono Advocate has been Lodged F. I. R to D. G. P. of Madhya Pradesh


प्रोबोनो एडवोकेट नरेन्द्र सिंह तोमर ने भारत सरकार की ओर से म. प्र. पुलिस के डी. जी. पी. के सायबर सेल में दर्ज कराई एफ. आई. आर. और एडिशनल इत्तलायें दीं. मामला सायबर क्राइम , आई. टी. एक्ट, आई. पी. सी. एवं लीगल एड सर्विसेज अथॉरिटीज एक्ट 1987. से संबंधित.

अब वकीलों को कोर्ट कैम्पोस में बैठकर दूकान सजा कर नहीं बैठना पड़ेगा, अब जिला न्यायालय भी ऑनलाइन हुये


अब जिला न्यासयालय भी ऑनलाइन हुये , जिला ई कोर्ट में भी अब इंटरनेट के जरिये ऑनलाइन ई फाइलिंग तथा हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट की तरह सारी सुविधायें ई कोर्ट हुईं
अब वकीलों को कोर्ट कैम्पकस में बैठकर दूकान सजा कर नहीं बैठना पड़ेगा
मुरैना / ग्वाकलियर/ भि‍ण्डा / जबलपुर , भोपाल, इंदौर । 20 फरवरी 18. ( ग्वाधलियर टाइम्स ) म.प्र. हाईकोर्ट एवं सुप्रीम कोर्ट की तर्ज पर म.प्र. की जिला अदालतें ( जिला एवं सत्र न्यारयालयों को भी ई कोर्ट में तब्दी,ल कर दिया गया है और अब म.प्र. के जिला एवं सत्र न्यादयालयों में भी केसो की ई फाइलिंग, नकल प्रतिलिपि लेना , किसी भी प्रकार का आवेदन देना आदि, ई पेपरबुक आदि सभी सुविधायें अब इंटरनेट के जरिये ऑनलाइन फाइल किये जा सकेंगें , इसके अलावा न्या.यालय की फीस भी ऑनलाइन ही जमा होगी ।
अभी तक प्रोबोनो एडवोकेट लीगल एड सेवायें एवं सहायता केन्द्रों को दूसरे जिले का केस मिलने पर अनेक जगह काफी दूरियों पर स्वोयं उपस्िें त होना पड़ता था , इस सुविधा के जिला न्याजयालयों में लागू होने के बाद अब प्रोबोनो एडवोकेटस अपने कार्यालय से ही सभी प्रकार की ई फाइलिंग एवं आवेदन आदि किसी भी जिला एवं सत्र न्यालयालय में इंटरनेट के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत ई कोर्ट में दे सकेंगें , इसके अलावा वे कोर्ट भी ऑनलाइन ही बदल सकेंगें , जिस कोर्ट में उन्हें मामला सुनवाई उपयुक्त व उचि‍त जान पड़ेगी , या जिस जिला में केस सुना जाना चाहिये उसमें वे केस ऑनलाइन ही ट्रांसफर कर सकेंगें । यह सुविधा एकदम उसी तरह है जैसे कि वर्तमान में हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट मं बेंच बदलने के लिये है ।
अब म.प्र. की जिला अदालतों में एडवोकेट का यूजर आई. डी. और पासवर्ड वही रहेगा जो कि उन्हें म.प्र. हाईकोर्ट के लिये प्राप्तप हुआ था , वे म.प्र. हाईकोर्ट से प्राप्तर यूजर आई. डी. व पासवर्ड का इस्तेरमाल कर ही किसी भी जिला न्या यालय में लॉगिन कर सकेंगें । उन्हे अलग से यूजर आई. डी. व पासवर्ड नहीं लेना होगा । जबकि सुप्रीम कोर्ट ऑफ इण्ि प्या का ए.ओ.आर. ( एडवोकेट ऑन रोल) यूजर आई. डी. व पासवर्ड पहले से ही अलग है , वह अलग व गुप्त ही रहेगा और सुप्रीम कोर्ट के लिये ही लॉगिन हेतु रहेगा ।
हालांकि आधि‍कारिक व घोषणा के तौर पर यह सुविधा जिला न्याूयालयों में शुरू कर दी गई है , और म.प्र. हाईकोर्ट की यूजर आई.डी. और पासवर्ड प्राप्त एडवोकेटस एवं प्रोबोनो लीगल एड एवं सर्वि‍सेज के लिये यह लिंक्स ओपन हो रहीं हैं, किन्तुई व्यारवहारिक तौर पर अभी कई जिला न्या‍यालयों में बहुत तेजी से इस पर काम चल रहा है और इस समय हर जिला कोर्ट में ई फाइलिंग व अन्यक ई कार्य हेतु अभी ई फाइलिंग लिंक्सं आनलाइन नहीं की गई हैं , केवल ई कॉमर्स कोर्ट की लिंक ही प्रदर्शिइत होती है , ऐसी दशा में ई एडवोकेटस , म.प्र. हाईकोर्ट की संबंधि‍त बेंच के वेब पोर्टल पर उपलब्ध सुपवधाओं के जरिये अधनीस्थव जिला न्या यालय के वेबपोर्टल पर इन सुविधाओं का उपयोग कर जरिये म.प्र. हाईकोर्ट अपना केस ई फाइल व अन्यस सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं ।
इस प्रक्रिया के ऑनलाइन होते ही , जिला न्या यालयों में स्वकत: ही वकीलों का बैठना बंद और इंटरनेट पर काम करना व आई.सीटी. में सुप्रशि‍क्षि त होना अनिवार्य हो जायेगा ।

Govardhan Giriraj Ji Ki Parikrama Part – 2


मिशन इन्‍द्र धनुष मुरैना


इतने कमीने भ्रष्‍ट गुंडास्‍वामीयों से लड़ रहे हैं , कि …..



इतने कमीने भ्रष्‍ट गुंडास्‍वामीयों से लड़ रहे हैं , कि ….. हालात ये हैंकि सालों का केवल वश ही नहीं चल रहा हरामियों का … वरना ….

महालक्ष्‍मी अष्‍टक एवं श्री सूक्‍त तथा तंत्र मंत्र पूजा की दुर्लभ सामग्री


मुरैना का सीवर लाइन घोटाला प्रधानमंत्री कार्यालय भारत सरकार में दर्ज


अंतत: मुरैना का सीवर लाइन घोटाला प्रधानमंत्री कार्यालय भारत सरकार में पहुँचा , म.प्र. सी.एम. हेल्‍पलाइन की भी दो नंबर के काम और फर्जीवाड़े की भी श‍िकायत दर्ज, रजिस्‍टर्ड हुई श‍िकायत , म.प्र. सरकार बल्‍लभ भवन सचिवालय म.प्र. शासन को कार्यवाही हेतु भेजी …. रिपोर्ट तलब की …. अत्‍यंत गोपनीय कारणों से व हाई प्रोफाइल्‍ड करप्‍शन मैटर होने से हम कंपलैंट का रजिस्‍ट्रेशन नंबर और छायाचित्र नहीं दे रहे

चमत्‍कारी व करिश्‍माई सिन्‍दूर बनाने का तरीका व कामिया सिन्‍दूर को सिद्ध करना


ग्‍वालियर टाइम्‍स की 106 वीं फ‍िल्‍म – कामिया (कामाख्‍या ) सिन्‍दूर को सिद्ध कर करामाती व चमत्‍कारी सिन्‍दूर बनाना एक अत्‍यंत सिद्ध सिन्‍दूर बनाने की अति गुप्‍त विद्या ( प्रोमो ट्रेलर)
इस फिल्‍म को हाई डेफ‍िनेशन ( एच. डी. ) फार्मेट में फुल साइज में सीधे यू ट्यूब पर देखने हेतु निम्‍न लिंक पर क्‍ल‍िक करें

हमारी फिल्‍मों को देखने हेतु हमारे चैनल को सबस्‍क्राइब करें
https://www.youtube.com/c/GwaliortimesIntv
हमारी फिल्‍में नि:शुल्‍क देखने हेतु हमारे निम्‍न पेड चैनल भारत टी.वी. पर सदस्‍यता लेने / सबस्‍क्राइब करने हेतु क्‍ल‍िक करें
https://www.youtube.com/channel/UC_1mid4TYNQvp6morw-aXHQ
Presented By Gwalior Times
http://www.gwaliortimes.in
https://gwaliortimes.wordpress.com
http://gwlmadhya.blogspot.in/
http://gtbharatvani.blogspot.in/
http://morenachambal.blogspot.in/
http://gtvachan.blogspot.in/
http://bhindgt.blogspot.in/
http://gttantra.blogspot.in/
ग्वालियर टाइम्स प्रस्तुत करती है
http://www.gwaliortimes.in
https://facebook.com/Devputrafilms
http://facebook.com/Tomarrajvansh
Twitter: @gwaliortimes , @narendra_singh , @narentomar @tomarrajvansh
अपनी खुद की वेबसाइट का डोमेन खुद ही रजि‍स्‍टर करें , केवल 2 मिनिट में , वेबसाइट की होस्‍टि‍ंग करें केवल 15 मिनिट में …. ग्‍वालियर टाइम्‍स … सबसे पुरानी भरोसेमंद और लंबी रेस की विश्‍वस्‍तरीय विश्‍वसनीय कम्‍पनी के साथ …. निम्‍न लिंक पर क्‍ल‍िक करें … http://gwaliortimeshosting.supersite2.myorderbox.com/hi/

4 मार्च से होलाष्‍टक प्रारंभ होंगें , 12 को होलिका दहन, तंत्र मंत्र सिद्धि का श्रेष्‍ठ योग


04 मार्च से प्रारंभ होंगें होलाष्‍टक , 12 को होलिका दहन, तंत्र मंत्र यंत्र प्रयोग के लिये सर्वश्रेष्‍ठ सिद्धि साधना योग
– नरेन्‍द्र सिंह तोमर ”आनन्‍द”
ग्‍वालियर टाइम्‍स , 1 मार्च 2017 । 02 मार्च को सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा , 04 मार्च को होलाष्‍टक प्रारंभ होगें , प्रात: 6 बज कर 10 मिनिट के बाद इस बार होलाष्‍टकों के लिये सर्वोत्‍तम योग महूर्त हैं , होलाष्‍टक की शुरूआत के दिन ही सर्वाथ सिद्धि योग एवं अमृत सिद्धि योग रहेंगें , ज्ञातव्‍य एवं स्‍मरणीय है कि तंत्र मंत्र यंत्र एवं अनुष्‍ठान आदि , अभि‍चारादि कर्म करने या उनको हटाने , पलटने, काटने, उतारे व उसारे आदि के लिये होलाष्‍टक से लेकर होलिका दहन के दिन व रात्रि का प्रयोग किया जाता है ।
होलाष्‍टकों के दरम्‍यान ही 09 फरवरी 2017 को तीन मुख्‍य महत्‍वपूर्ण सिद्धि योग एक साथ पड़ेंगें , इस दिन गुरू पुष्‍य नक्षत्र राज सिद्धि योग , सर्वार्थ सिद्धि योग एवं अमृत सिद्धि योग एक साथ रहेंगें , इस लिहाज से इस बार ये होलाष्‍टक सम्‍पूर्ण सिद्धि व साधना हेतु उपयुक्‍त एवं अति दुर्लभ हैं ।
होलाष्‍टकों की पूर्ण आहूति होलिका दहन की अकाटय दहन मूहूर्त ( संपूर्ण दिन व संपूर्ण रात्रि) पर होगी ।
जो लोग तंत्र मंत्र यंत्रादि के जानकार नहीं हैं , वे 04 मार्च से होलिका दहन दिनांक 12 मार्च 2017 तक अपने स्‍तर पर विशेष सावधानियां रखें , इस वक्‍त तमाम प्रकार के अनुष्‍ठान व तंत्र क्रियायें आदि संपन्‍न की जातीं हैं , एवं उतारे व उसारे आदि किये जाते हैं , काट, पलट , उलट आदि क्रियायें व नवीन तंत्र मंत्र यंत्र प्रयोग किये जाते हैं, लिहाजा तिराहों चौराहों से देख कर व बचकर गुजरें, इसके अलावा अपने घर , दूकान व व्‍यापार , व्‍यवसाय की विशेष सावधानी , स्‍वयं की विशेष रक्षात्‍मक उपाय करें व स्‍वयं को बचायें ।
इसके ठीक बाद ही चैत्र नवरात्रि के प्रयोग व अनुष्‍ठान आदि चलेंगें , लिहाजा इस पूरी अवधि‍ के दौरान मुकम्‍मल सावधानी रखें ।

« Older entries

%d bloggers like this: