संभागीय मुख्यालयों पर बिजली कट ौती 14 घंटे पर पहुंची, गांवों से बिजल ी गायब.चंबल में भीषण गर्मी


संभागीय मुख्यालयों पर बिजली कटौती 14 घंटे पर पहुंची, गांवों से बिजली गायब.चंबल में भीषण गर्मी

मुरैना 17 मई 2011 । मुरैना एवं भिण्‍ड जिला में प्रतिदिन की जा रही साढ़े सात घण्‍टे की डिक्‍लेयर्ड बिजली कटौती के बाद अब भीषण गर्मी के मौसम में अतिरिक्‍त बिजली कटौती का चम्‍बल संभाग के निवासियों को और अधिक सामना करना पड़ रहा है । अब संभागीय मुख्यालयों पर यह बिजली कटौती 14 घंटे प्रतिदिन तक पहुंच गई है ।

आजकल जहॉं दिन में दोपहर 11 बजे से शाम 5 बजे तक फिर रात में शाम 5 बजे से रात 12 बजे तक की अतिरिक्‍त बिजली कटौती की जा रही है वहीं इस भीषण गर्मी में चंबल संभाग के संभागीय मुख्यालय शहर मुरैना में प्रात: पांच बजे से काटी गयी बिजली कटौती इस समाचार के लिखे और प्रकाशित किये जाने के वक्‍त तक समूचे चंबल संभाग में बिजली कटोती जारी है । चंबल के गांवों के हालात ये हैं कि अनेक गांवों में कई महीनों से बिजली नहीं है तो कई गांवों में कई दिन छोउ़ कर कुछ घंटों के लिये यदा कदा ही बिजली के दर्शन होते हैं । वर्तमान में शहर में बिजली का शट डाउन चल रहा है । उल्लेखनीय है कि चम्‍बल के ६५ फीसदी ग्रामीण क्षेत्र में बिजली है ही नहीं वहीं जहॉं हैं वहॉं दो दिन छोड़ कर महज ४ घण्‍टे के लिये मात्र बिजली दी जा रही है । ऐन भीषण गर्मी में की जा रही अनाप शनाप भारी बिजली कटौती से जनता में भारी रोष व आक्रोश व्याप्‍त हो गया है । स्‍मरणीय है मुरेना शहर चम्बल संभाग का संभागीय मुख्‍यालय है । इस दरम्‍यान बिजली घर का शिकायत दर्ज कराने का फोन नंबर ०७५३२- २३२२४४ सहित सभी अधिकारीयों एवं कर्मचारीयों के फोन बन्‍द चल रहे हैं जो कि हरदम बिजली शट डाउन करने से पूर्व आउट ऑफ क्रेडल एवं स्विच आफॅ कर लिये जाते हें ।

राहुल गांधी, दिग्विजय और राजबब्बर की गिरफ्तारी से कांग्रेसी भड़के, म ाया की तानाशाही की निंदा, फूंकेगे मा यावती के पुतले


राहुल गांधी, दिग्विजय और राजबब्बर की गिरफ्तारी से कांग्रेसी भड़के, माया की तानाशाही की निंदा, फूंकेगे मायावती के पुतले

मुरैना 12 मई 2011, उ.प्र. के भट्टा पारसोल में कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी, दिग्वजय सिंह एवं राज बब्बर की गिरफ्तार किये जाने से चंबल के कांग्रेसी नेता बुरी तरह भड़क गये हैं । मायावती सरकार की निंदा करते हुये कांग्रेसियों ने कहा है कि शांतिपूर्ण धरना दे रहे कांग्रेस नेताओं की गिरफ्तारी से मायावती का तानाशाही पूर्ण एवं सरकारी मशीनरी के दम पर गुण्डाराज चलाने का रवैया साफ हो गया है । मायावती के ऐसे ही कामों के कारण ही किसानों पर माया सरकार ने किसानों पर गोलियां चला कर किसानों की हत्या कर दी । देश में ऐसा गुण्डाराज नहीं चलने दिया जायेगा , और माया सरकार किसी भ्रम में न रहे, उ.प्र. में अगले चुनाव में जनता माया को मुंह तोड़ जवाब देगी ।

कांग्रेसियों ने मायावती सरकार को चेतावनी देते हुये कहा है कि यदि शीघ्र ही कांग्रेस नेताओं को रिहा न किया गया और राहुल गांधी की तीनों मांगें नहीं मानी गयी तो कांग्रेसी हर गांव हर शहर में मायावती के पुतले फूंकेंगें ।

बयान देने वाले कांग्रेसियों में केशव सिंह सिकरवार, सुरेन्द्र सिंह सिकरवार पूर्व सरपंच, हरिओम सिंह तोमर सरपंच कल्याण सिंह सिकरवार, मोहन सिंह तोमर, नरेन्‍द्र सिंह तोमर, राकेश सिंह तोमर, ब्रजभान सिंह भदौरिया, दिनकर सिंह तोमर, अतर सिंह डण्‍डोतिया, राकेश शाक्य, चतुरी सिंह डण्‍डोतिया, सहदेव सिंह भदौरिया , जसवंत सिंह तोमर, किशन सिंह तोमर, मुन्ना सिकरवार, महिपाल सिंह तोमर, पृथ्वीपाल सिंह तोमर, अरूणा सिंकरवार, रीता सिंह, अनीता मिश्रा , संगीता शर्मा, मोहिनी अग्रवाल, रमा गुप्ता, अर्चना बांदिल, कीर्ति शर्मा आदि शामिल हैं ।

भीषण गर्मी लू लपट और भारी बिजली कटौत ी के चलते बिजली विभाग के अधीक्षण यंत ्री के किसान पिता का निधन


मुरैना 11 मई 2011, मुरैना जिला में चल रही भारी बिजली कटौती और भीषण गर्मी व लू लपट के चलते म.प्र. विद्युत मण्डल और मध्यक्षेत्रीय विद्युत वितरण कंपनी के सेवानिवृत अधीक्षण यंत्री एन.एस.तोमर के किसान पिता हेत सिंह तोमर का निधन हो गया । स्‍व. हेत सिंह तोमर अंचल के जाने माने किसान थे, कल गर्मी सहन न होने और अंचल में चल रही भारी बिजली कटौती के चलते वे अपने पैतृक गांव मुरेना जिला के अंबाह तहसील के ग्राम बारेकापुरा में अचानक बेहोश होकर कोमा में चले गये । उन्हें तुरंत मुरैना एवं ग्वालियर ले जाकर बेहतरीन डाक्टर्स को दिखाया गया किंतु उनके प्राण नहीं बच सके

भीषण गर्मी लू लपट और भारी बिजली कटौत ी के चलते बिजली विभाग के अधीक्षण यंत ्री के किसान पिता का निधन


मुरैना 11 मई 2011, मुरैना जिला में चल रही भारी बिजली कटौती और भीषण गर्मी व लू लपट के चलते म.प्र. विद्युत मण्डल और मध्यक्षेत्रीय विद्युत वितरण कंपनी के सेवानिवृत अधीक्षण यंत्री एन.एस.तोमर के किसान पिता हेत सिंह तोमर का निधन हो गया । स्‍व. हेत सिंह तोमर अंचल के जाने माने किसान थे, कल गर्मी सहन न होने और अंचल में चल रही भारी बिजली कटौती के चलते वे अपने पैतृक गांव मुरेना जिला के अंबाह तहसील के ग्राम बारेकापुरा में अचानक बेहोश होकर कोमा में चले गये । उन्हें तुरंत मुरैना एवं ग्वालियर ले जाकर बेहतरीन डाक्टर्स को दिखाया गया किंतु उनके प्राण नहीं बच सके

संभागीय मुख्यालयों पर बिजली कट ौती 14 घंटे पर पहुंची, गांवों से बिजल ी गायब.चंबल में भीषण गर्मी , लू और बिजली कटौती से 17 किसान मरे


संभागीय मुख्यालयों पर बिजली कटौती 14 घंटे पर पहुंची, गांवों से बिजली गायब.चंबल में भीषण गर्मी , लू और बिजली कटौती से 17 किसान मरे

मुरैना 11 मई 2011 । मुरैना एवं भिण्‍ड जिला में प्रतिदिन की जा रही साढ़े सात घण्‍टे की डिक्‍लेयर्ड बिजली कटौती के बाद अब भीषण गर्मी के मौसम में अतिरिक्‍त बिजली कटौती का चम्‍बल संभाग के निवासियों को और अधिक सामना करना पड़ रहा है । अब संभागीय मुख्यालयों पर यह बिजली कटौती 14 घंटे प्रतिदिन तक पहुंच गई है ।

आजकल जहॉं रात में शाम 5 बजे से रात 12 बजे तक की अतिरिक्‍त बिजली कटौती की जा रही है वहीं इस भीषण गर्मी में चंबल संभाग के संभागीय मुख्यालय शहर मुरैना में प्रात: पांच बजे से काटी गयी बिजली कटौती इस समाचार के लिखे और प्रकाशित किये जाने के वक्‍त तक समूचे चंबल संभाग में बिजली कटोती जारी है । चंबल के गांवों के हालात ये हैं कि अनेक गांवों में कई महीनों से बिजली नहीं है तो कई गांवों में कई दिन छोउ़ कर कुछ घंटों के लिये यदा कदा ही बिजली के दर्शन होते हैं । वर्तमान में शहर में बिजली का शट डाउन चल रहा है । उल्लेखनीय है कि चम्‍बल के ६५ फीसदी ग्रामीण क्षेत्र में बिजली है ही नहीं वहीं जहॉं हैं वहॉं दो दिन छोड़ कर महज ४ घण्‍टे के लिये मात्र बिजली दी जा रही है । ऐन भीषण गर्मी में की जा रही अनाप शनाप भारी बिजली कटौती से जनता में भारी रोष व आक्रोश व्याप्‍त हो गया है । स्‍मरणीय है मुरेना शहर चम्बल संभाग का संभागीय मुख्‍यालय है । इस दरम्‍यान बिजली घर का शिकायत दर्ज कराने का फोन नंबर ०७५३२- २३२२४४ सहित सभी अधिकारीयों एवं कर्मचारीयों के फोन बन्‍द चल रहे हैं जो कि हरदम बिजली शट डाउन करने से पूर्व आउट ऑफ क्रेडल एवं स्विच आफॅ कर लिये जाते हें ।

खबर है कि भीषण गर्मी, लू लपट और भारी बिजली कटौती के चलते चंबल के 5 गांवों में 17 किसानों की मौत हो गयी है ।

भीषण गर्मी लू लपट और भारी बिजली कटौत ी के चलते बिजली विभाग के अधीक्षण यंत ्री के किसान पिता का निधन


मुरैना 11 मई 2011, मुरैना जिला में चल रही भारी बिजली कटौती और भीषण गर्मी व लू लपट के चलते म.प्र. विद्युत मण्डल और मध्यक्षेत्रीय विद्युत वितरण कंपनी के सेवानिवृत अधीक्षण यंत्री एन.एस.तोमर के किसान पिता हेत सिंह तोमर का निधन हो गया । स्‍व. हेत सिंह तोमर अंचल के जाने माने किसान थे, कल गर्मी सहन न होने और अंचल में चल रही भारी बिजली कटौती के चलते वे अपने पैतृक गांव मुरेना जिला के अंबाह तहसील के ग्राम बारेकापुरा में अचानक बेहोश होकर कोमा में चले गये । उन्हें तुरंत मुरैना एवं ग्वालियर ले जाकर बेहतरीन डाक्टर्स को दिखाया गया किंतु उनके प्राण नहीं बच सके

हास्य/ व्यंग्य फेसबुक पे लड़ी जो अ ंखियां… अब जल रही सारी सखियां – नर ेन्द्र सिंह तोमर ‘’आनंद’’


फेसबुक पे सखीयन ने जबरन मेरा दिया अकांउण्ट खुलाय,
दिया अकाउंट खुलाय, फोटो नूतन नये नये डलवाये ।
कछू सखियन ने कह दिया कि नित नये फ्रेण्ड बनाना, उमर पर तुम मत जाना !
प्रेम करो चाहे इश्क लड़ाओ, बने बात तो शादी रचवाओ वरना टाइमपास कराओ ।
वरना टाइमपास कराओ, रोज पकड़ इक बांका बुढ्ढा सा कोई मुर्गा ।

%d bloggers like this: